पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

भाजपा-माकपा एक हैं- कांग्रेस

भाजपा-माकपा एक हैं- कांग्रेस

नई दिल्ली. 19 दिसंबर 2010


कांग्रेस पार्टी का मानना है कि भ्रष्टाचार के मामले में भारतीय जनता पार्टी और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी एक है. कांग्रेस के 83वें महाधिवेशन में एक राजनीतिक प्रस्ताव में यह टिप्पणी की गई है.

इस अधिवेशन में पारित राजनीतिक प्रस्ताव में कहा गया है कि भाजपा ने सत्ता हथियाने के लिए राजनीतिक परिदृश्य में भ्रष्टाचार की बाढ़ ला दी है. भाजपा ने नैतिक दिवालिएपन और राजनीतिक पाखंड का प्रदर्शन किया है. माकपा और अन्य पार्टियां भी ऐसा कर रही हैं, जो अपने शासन वाले राज्यों में सक्रियता से भ्रष्टाचार में लिप्त हैं.

प्रस्ताव के अनुसार यूपीए-1 को वाम दलों ने समर्थन दिया था लेकिन बाद में समर्थन वापस ले लिया. वाम दल उसके बाद से कांग्रेस और यूपीए का विरोध करने के लिए भाजपा के साथ मिलकर काम कर रहे हैं.

पार्टी द्वारा पारित प्रस्ताव में कहा गया कि तेदेपा, जद यू और बीजद जैसी क्षेत्रीय पार्टियां भी कांग्रेस और यूपीए में उसके सहयोगी दलों का विरोध करने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं. कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भाजपा का गंभीर भ्रष्टाचार के मुद्दों पर दोहरे मानदंड अपनाने का इतिहास रहा है.

कांग्रेस ने वाम दलों की आलोचना करते हुए प्रस्ताव में कहा गया है कि पश्चिम बंगाल, केरल और त्रिपुरा में वामदलों की सरकारें हैं और इन राज्यों में हिंसा बदस्तूर जारी है. राजनीतिक दलों द्वारा राजनीतिक या चुनावी फायदे के लिए हिंसा फैलाने के प्रयासों का कांग्रेस पुरजोर विरोध करती है.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in