पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

भाजपा और संघ नाजी सेना की तरह- दिग्विजय

भाजपा और संघ नाजी सेना की तरह- दिग्विजय

नई दिल्ली. 19 दिसंबर 2010


कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की तुलना हिटलर की नाज़ी पार्टी से करते हुये कहा है कि जिस तरह नाज़ी पार्टी ने यहूदियों को निशाना बनाया था, आरएसएस उसी तरह राष्ट्रवाद की विचारधारा की आड़ में मुसलमानों को निशाना बना रही है.

कांग्रेस पार्टी के 83वें महाधिवेशन में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि आरएसएस नई पीढ़ी के दिमाग में मुसलमानों से नफ़रत करने का बीज बो रही है और यही हमारे से लिए सबसे बड़ा ख़तरा है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने आरएसएस के कार्यकर्ता सुनील जोशी की हत्या की केंद्रीय जाँच ब्यूरो से जाँच की मांग की है...मैं जोशी को इसलिए जानता था क्योंकि मैं सांसद हूँ. समझौता एक्सप्रेस धमाके, मालेगांव धमाके, मक्का मस्जिद धमाके, अजमेर शरीफ़ विस्फोट मामला सभी की जाँच में उनका नाम आया. ऐसा क्यों है कि ये सभी अभियुक्त आरएसएस से जुड़े हुए हैं.

दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर निशाना साधते हुये कहा कि बाबरी मस्जिद विध्वंस भारत के इतिहास में सबसे अंधकार भरा अध्याय है...भारत में आतंकवाद की जड़ें भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी की रथयात्रा से जुड़ी हुई है.

उन्होंने कहा कि भाजपा के नक्सलियों से भी संबंध है. उन्होंने कहा कि इस बात की भी जांच होनी चाहिए कि आखिरकार नक्सलियों के गढ़ों में भाजपा ही क्यों जीतती है. दिग्विजय सिंह ने कहा कि भाजपा के लोग कागज के शेर हैं और इनसे डरने की भी जरूरत नहीं है. ये गीदड़ भभकी देते हैं लेकिन डंडा लेकर खडे हो जाइए तो ये भाग जाएंगे.