पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

येदियुरप्पा पर पत्नी की हत्या का आरोप

येदियुरप्पा पर पत्नी की हत्या का आरोप

नई दिल्ली. 26 जनवरी 2011


कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा के खिलाफ एक वकील ने हाईकोर्ट में याचिका दायर करते हुये आरोप लगाया है कि येदियुरप्पा ने नेता प्रतिपक्ष के पद पर रहते हुये अपनी पत्नी की हत्या की थी. याचिका में आरोप लगाया गया है कि पुलिस ने जांच के नाम पर केवल खाना पूर्ति की थी, इसलिये हत्या के मामले में येदियुरप्पा के खिलाफ कार्रवाई नहीं हो सकी थी.

ज्ञात रहे कि येदियुरप्पा की पत्नी मैत्रादेवी की 2004 में मौत हुयी थी. इस सात साल पुराने मामले को लेकर एस शेषाद्री नामक अधिवक्ता ने कर्नाटक उच्च न्यायालय में याचिका दायर की है. शेषाद्री ने सूचना के अधिकार के तहत इस मामले से संबंधित कई महत्वपूर्ण जानकारियां हासिल की हैं और उनका दावा है कि अगर कोर्ट इजाजत देगी तो वे यह साबित कर देंगे कि येदियुरप्पा ने ही अपनी पत्नी की हत्या की थी.

एस शेषाद्री शिमोगा जिले के हैं और येदियुरप्पा भी इसी जिले से आते हैं. शेषाद्री ने आरटीआई के जरिए मिली जानकारी के आधार पर अपनी याचिका में कहा है, 'मैत्रादेवी की हत्या में पुलिस की जांच में कई खामियां हैं. पोस्टमॉर्टम जल्दबाजी में किया गया, मैत्रादेवी का शव गीला नहीं था और उनकी चूड़ियां सही सलामत थीं. इसके अलावा शव की तस्वीरें भी नहीं खींची गईं और फॉरेंसिक लैब में भी नहीं भेजा गया. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कहा गया कि शरीर पर चोट के निशान नहीं थे.'

येदियुरप्पा के खिलाफ शनिवार और सोमवार को भ्रष्टाचार के तीन मामले दर्ज किए गए थे. बेंगलुरु के चंद्रशेखर बी. हिपारागी की अदालत में भ्रष्टाचार से जुड़े तीन मामले दर्ज किए गए. उनके खिलाफ 5 शिकायतों में कुल 15 आरोप दर्ज कराये गये हैं.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in