पहला पन्ना >मुद्दा >दिल्ली Print | Share This  

दिल्ली के पानी में जानलेवा सुपरबग जीन

दिल्ली के पानी में जानलेवा सुपरबग जीन

नई दिल्ली. 7 अप्रैल 2011


नई दिल्ली से लिए गए पानी के नमूनों में से एक चौथाई में खतरनाक सुपरबग जीन पाया गया है. पानी के ये नमूने नई दिल्ली की सड़कों पर जल आपूर्तियों और छोटे तालाबों से लिए गए हैं.

यह नया अध्ययन करने वाले विशेषज्ञों का कहना है कि यह ताजा सबूत है कि नया दवारोधी बिषाणु एनडीएम वन पर्यायवरण में पूरी तरह से फैला हुआ है. यह तेजी से विश्व के अन्य हिस्सों में फैल सकता है.

वर्ष-2008 में सुपरबग की पहली बार पहचान हुई थी और देखते-देखते यह अमेरिका, आस्ट्रेलिया, ब्रिटेन, कनाडा और स्वीडन जैसे देशों में फैल गया. पिछले साल अगस्त में मेडिकल पत्रिका लैंसेट ने भारत और पाकिस्तान के एक बैक्टीरिया से लोगों को सावधान रहने के लिये कहा था. लैंसेट के अनुसार सुपरबग नामक इस बैक्टीरिया के बारे में वैज्ञानिकों की राय है कि इस पर एंटी बायोटिक्स का कोई असर नहीं होता.

लैंसेट के अगस्त 2010 में एक लेख में बताया था कि भारत या पाकिस्तान से कॉस्मेटिक सर्जरी कराकर लौटे लोंगों के साथ ब्रिटेन पहुंचा यह बैक्टीरिया शरीर में एनडीएम-1 नामक एंजाइम बनाता है, जिस पर दवाइयों का असर नहीं हो रहा है. यहां तक कि कार्बापेनेम्स नामक सबसे शक्तिशाली एंटी बायोटिक्स भी इस पर बेअसर साबित हुआ है.

वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी थी कि यह बैक्टीरिया दूसरे बैक्टीरिया के साथ मिल कर ऐसा संक्रमण पैदा कर सकता है, जिससे निपटना मुश्किल हो सकता है.