पहला पन्ना > राज्य > दिल्ली Print | Send to Friend 

अहमदाबाद में 16 धमाके, 29 की मौत

अहमदाबाद में 16 धमाके, 29 की मौत


नई दिल्ली, 26 जुलाई 2008.
बेंगलूरु में शुक्रवार के दिन हुए धमाकों की गूंज अभी बरकरार ही थी कि गुजरात के अहमदाबाद में भी एक के बाद एक लगातार 16 धमाकों ने देश को सकते में डाल दिया. अहमदाबाद में शनिवार को पौने सात बजे हुए धमाकों में अंतिम खबर मिलने तक 29 लोगों के मारे जाने की खबर है. इन धमाकों में लगभग 100 लोग घायल हुए हैं.

पुलिस सूत्रों के अनुसार इन धमाको में बेंगलूरु की तरह साइकल और टिफिन बम का इस्तेमाल किए जाने की खबर है. कम तीव्रता वाले इन धमाको में देसी तकनीक के इस्तेमाल की बातें सामने आ रही हैं. इससे पहले आतंकवादियों ने राजस्थान के जयपुर और शुक्रवार को कर्नाटक के बेंगलुरू में भी बड़े पैमाने पर धमाके किए थे.

अहमदाबाद में हुए आज के ये विस्फोट नारोल में हनुमान मंदिर, सरखेज में संगम थिएटर, बापूनगर में समजूबा हॉस्पीटल के पास, स्थानीय सरदार पटेल हीराबाजार, ईसनपुर में समजूबा स्कूल के पास, ठक्करबापानगर में कुलदेवी होटल के अलावा सारंगपुर ब्रिज, रायपुर चकला, हाटकेश्वर, मणिनगर चौराहा एवं नरोडा गाम इलाकों में हुए. लेकिन इन विस्फोटों का राज्य भर में असर देखा गया.

अहमदाबाद में हुए धमाकों से पहले एक न्यूज चैनल को इंडियन मुजाहिदीन नामक संगठन की ओर से ई-मेल alarbi_gujrat@yahoo.com से भेजा गया था. इस ई-मेल में लिखा था, ‘कुछ ही मिनटों में धमाके होने वाले हैं. यदि रोक सको तो रोक लो.’ इस ई-मेल में उद्योगपति मुकेश अंबानी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख को भी जान से मारने की धमकी दी गई है.

इन धमाकों के बाद देश भर में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. दिल्ली और गुजरात के दूसरे शहरों में हाई अलर्ट घोषित करते हुए सीमावर्ती इलाकों में पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई है.

राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और बीजेपी नेता आडवाणी ने अहमदाबाद धमाकों की निंदा करते हुए लोगों से शांति की अपील की है.