पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

जिंदा है ओसामा बिन लादेन

जिंदा है ओसामा बिन लादेन

नई दिल्ली. 8 मई 2011


पाकिस्तान के 66 प्रतिशत लोगों का मानना है कि एबटाबाद में अमेरिकी सेना द्वारा मारा गया व्यक्ति ओसामा बिन लादेन नहीं थे. कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के एक ऑनलाइन सर्वे में पाकिस्तान और लादेन से जुड़े कुछ ऐसे ही विचार सामने आए हैं.

osama

कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के वैश्विक ओपिनियन सर्वेक्षक ‘यूगोव’ और ‘पोलिस’ ने इस ऑनलाइन सर्वे का आयोजन किया. इसमें 1039 पाकिस्तानियों ने हिस्सा लिया. 4 और 5 मई को कराए गए इस सर्वे की खास बात यह है कि इसमें शामिल सभी व्यक्ति पढ़े-लिखे तबके के थे. सर्वेक्षण कराची, इस्लामाबाद और लाहौर जैसे शहरों से हुआ.

सर्वे के अनुसार 48 प्रतिशत पाकिस्तानी मानते हैं कि ओसामा बिन लादेन एक सच्चे मुसलमान नहीं थे. जाहिर तौर पर 52 फीसदी लोग लादेन के पक्ष में हैं. 42 प्रतिशत लोग इस बात से इत्तेफाक नहीं रखते कि वह एक सामूहिक जनसंहारक थे, हालांकि 35 प्रतिशत लोग इस बात से सहमत हैं.

इस सर्वे में शामिल 75 फीसदी लोग अमरीका द्वारा पाकिस्तान की धरती पर कथित तौर पर लादेन की हत्या की नीति से सहमत नहीं हैं. 74 प्रतिशत की साफ राय है कि अमरीका इस्लाम के प्रति सम्मान का भाव नहीं रखता और वे इसे मुसलमानों के खिलाफ युद्ध की तरह देखते हैं. इसी तरह केवल एक चौंथाई लोग मानते हैं कि वह 9-11 की घटना के लिये जिम्मेवार थे. 86 प्रतिशत लोग पाकिस्तान द्वारा अमरीका के ड्रोन हमले की सहमति को गलत मानते हैं.