पहला पन्ना >राजनीति >पश्चिम Print | Share This  

ममता बनीं बंगाल की मुख्यमंत्री

ममता बनीं बंगाल की मुख्यमंत्री

कोलकाता. 20 मई 2011


ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ले ली है. पश्चिम बंगाल में 34 साल से सत्ता में बने हुए वामपंथियों के ख़िलाफ़ एक बड़ी राजनीतिक जंग जीतने वाली ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल की पहली महिला मुख्यमंत्री बनी हैं.

शपथ समारोह में राज्य के निवर्तमान मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य भी शामिल हुए. उनके अलावा सीपीएम के पश्चिम बंगाल के सचिव बिमान बोस, वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी और केंद्रीय गृहमंत्री पी चिंदबरम भी समारोह में मौजूद थे.

तेरह मई को आए विधानसभा चुनाव के नतीजों में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस को 184 सीटें मिली थीं. तृणमूल की सहयोगी पार्टी कांग्रेस को 42 सीटें हासिल हुई थीं. वहीं 34 साल तक सत्ता संभालने वाली सीपीएम को इन चुनावों में महज 40 सीटें ही मिलीं थी.

जिन कैबिनेट मंत्रियों ने शपथ ली है, उनमें प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष मानस भुईंया, तृणमूल के सुब्रतो बागची, पार्थो चटर्जी, अमित मित्रा, मनीष गुप्ता, सुब्रतो मुखर्जी, अब्दुल करीम चौधरी, एस पांडे, उपेंद्रनाथ विश्वास, काशीनाथ मिश्रा, जावेद अहमद ख़ान, योगेंद्रनाथ भट्टाचार्य, सावित्री मित्र, ज्योतिप्रिय मलिक, शांतिराम महतो, ए शफ़ीक, मलय घटक, पुलेंदु बसु, एक बसु, हितेन बर्मन शामिल हैं.